5 साल से डिवाइस की जासूसी कर रहा था छुपा हुआ बग, डेटा चोरी करने में करता था हैकर्स की मदद - Android

Get it on Google Play

5 साल से डिवाइस की जासूसी कर रहा था छुपा हुआ बग, डेटा चोरी करने में करता था हैकर्स की मदद - Android

गैजेट डेस्क.एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम के 2 बिलियन से ज्यादा यूजर्स होने के कारण कई बार सुरक्षा संबंधी व्यवस्था दुरुस्त रखना थोड़ा मुश्किल हो जाता है। समय समय पर कई बग्स सामने आते रहते हैं, और कंपनी इन्हें जल्दी ही ठीक भी कर लेती है। लेकिन हाल ही में एक ऐसे बग का पता चला है जो साल 2013 से एंड्राइड डिवाइसेज को इंफेक्ट कर रहा था। यह बग करीब 5 साल तक हैकर्स को डिवाइस से यूजर का डेटा एक्सेस करने में मदद करता रहा। सिक्योरिटी रिसर्चर सर्जी टोशिन ने हाल ही में इस बग का पता लगाया है।

सर्जी टोशिन का कहना है कि इस बग के जरिए हैकर्स यूजर्स के डिवाइस से डेटा चुराने के अलावा अकाउंट भी हैक कर सकते थे। यह बग गूगल के ओपन सोर्स प्रोजेक्ट क्रोमियम में तैयार हुआ था, जो पहले गूगल क्रोम को इंफेक्ट किया। और उसके बाद बाकी ब्राउजर्स के साथ भी कनेक्ट हो गया। यह बग एंड्राइड मोबाइल पर गूगल क्रोम और क्रोमियम द्वारा बनाए गए अन्य ब्राउजर्स का इस्तेमाल करने वाले यूजर्स को नुकसान पहुंचा रहा था।

ब्राउजर अपडेट कर रहेंसुरक्षित
बग 5 साल तक यूजर्स के डिवाइसेज को इंफेक्ट करता रहा। लेकिन अब बग की जानकारी सामने आने के बाद एंड्राइड 7 और उसके ऊपर वाले वर्जन में बग का फिक्स दिया जा रहा है। क्रोम अपडेट के अंतर्गत यह फिक्स एंड्राइड 7 और उसके ऊपर वाले वर्जन के यूजर्स को मिलेगा।
जबकि एंड्राइड 7 से पुराने वर्जन वाले यूजर्स को गूगल प्लेस्टोर से अपना क्रोम ब्राउजर प्लेस्टोर से अपडेट करना होगा।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today android bug allowed hackers to spy on users for over five years

25/03/2019 11:47 AM